केवल ₹216 प्रतिदिन कमाने वाले व्यक्ति ने खड़ी कर दी 10 करोड़ सालाना टर्नओवर वाली कंपनी

सफलता पाने का मूल मंत्र है मेहनत लगन और ईमानदारी। मेहनत लगन और ईमानदारी से संघर्ष और सफलता को पाने की सीढ़ियां चढ़ने वाला व्यक्ति कभी भी नाकाम नहीं होता। कुछ कर गुजरने के लिए व्यक्ति के मन में जीत होनी चाहिए और उस जीत के बलबूते ही आगे बढ़ने का हौसला होना चाहिए।

केवल ₹216 प्रतिदिन कमाने वाले व्यक्ति ने खड़ी कर दी 10 करोड़ सालाना टर्नओवर वाली कंपनी
केवल ₹216 प्रतिदिन कमाने वाले व्यक्ति ने खड़ी कर दी 10 करोड़ सालाना टर्नओवर वाली कंपनी

ऐसी ही मजबूत जीत और मजबूत हौसला लेकर आगे बढ़ते हुए अपने सपनों को साकार करने वाले एक व्यक्ति की सफलता की दास्तान हम इस लेख में आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे ₹216 प्रतिदिन कमाने वाला व्यक्ति आज 10 करोड़ रुपए सालाना कमाने वाली कंपनी का मालिक बन गया।

 

गुजरात के सूरत में रहने वाले क्रुणाल रैयाणी बहुत ही सामान्य पुरुष भूमि से आते हैं। क्रूणाल के पिता सूरत में ही एक डायमंड फैक्ट्री में कर्मचारी का काम करते हैं। बड़े सपने देखने की आदत क्रूणाल को बचपन से ही थी।

केवल ₹216 प्रतिदिन कमाने वाले व्यक्ति ने खड़ी कर दी 10 करोड़ सालाना टर्नओवर वाली कंपनी
केवल ₹216 प्रतिदिन कमाने वाले व्यक्ति ने खड़ी कर दी 10 करोड़ सालाना टर्नओवर वाली कंपनी

कुणाल पढ़ाई में इतने अच्छे नहीं थे और ना ही वह किसी बड़ी बिजनेस फैमिली से आते थे। बावजूद इसके उन्होंने अपनी प्रतिभा के बल पर वह कर दिखाया जो बड़े-बड़े व्यापारियों के लिए करना कठिन हो जाता है। क्रूणाल ने अपनी सीट स्कूली शिक्षा पूरी की और इंजीनियरिंग में एडमिशन ली।

 

 

अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई खत्म करने के बाद क्रूणाल ने इंजीनियरिंग के दिशा में ना जाते हुए एक छोटी सी नौकरी करना शुरू कर दी। उस नौकरी से क्रूणाल को केवल ₹6500 ही महीना पगार मिलता था। इस हिसाब से देखा जाए तो कुणाल प्रतिदिन करीब ₹216 कमाते थे। दरअसल वह एक मार्केटिंग जॉब थी।

केवल ₹216 प्रतिदिन कमाने वाले व्यक्ति ने खड़ी कर दी 10 करोड़ सालाना टर्नओवर वाली कंपनी
केवल ₹216 प्रतिदिन कमाने वाले व्यक्ति ने खड़ी कर दी 10 करोड़ सालाना टर्नओवर वाली कंपनी

उस जॉब को करते-करते कुणाल ने काफी अनुभव प्राप्त कर लिया। और धीरे-धीरे क्रूणाल के मन में विचार आया कि क्यों ना खुद का ही एक ही कॉमर्स बिज़नेस खोल लिया जाए। परंतु नया बिजनेस खोलने के लिए क्रूणाल के पास जमा पूंजी नहीं थी।

 

साल 2015 में जब क्रूणाल की आयु केवल 18 वर्ष थी उस समय उन्होंने ई-कॉमर्स बिजनेस शुरू करने के बारे में सोचा और बिजनेस खोलने के लिए अपने दोस्तों रिश्तेदारों से उन्होंने धनराशि मांगी। परंतु किसी ने भी उन्हें मदद नहीं की। बाद में क्रूणाल के मामा की रेट भाई ने उन्हें 2 लाख की मदद की। अपने मामा से 2 लाख लेकर क्रूणाल ने इ कॉमर्स बिज़नेस की शुरुआत की।

अपने बिजनेस की शुरुआत में कुणाल केवल 18 वर्ष के होने के कारण कोई भी बड़ा व्यापारी उन पर विश्वास नहीं कर पाता था। परंतु क्रूणाल ने धीरे-धीरे अपने मेहनत और लगन के बल पर मार्केट में खुद को विश्वास पात्र बनाया।

आज समय ऐसा आ गया है कि क्रूणाल की कंपनी मार्केट में कई बड़ी कंपनियों में से एक बन चुकी है। मार्केट के बड़े-बड़े व्यापारी और क्रूणाल के साथ बिजनेस करने लगे हैं। क्रूणाल की कंपनी में शुरुआती दौर में पहले केवल 4 लोग काम करते थे जिनमें उनके मामा वह और अन्य दो कर्मचारी थे। क्रूणाल की कंपनी में करीब 110 कर्मचारी काम कर रहे हैं।

इतना ही नहीं क्रूणाल ने 100 लोगों को अपनी कंपनी में मुफ्त में ट्रेनिंग देने का भी काम किया है। आज क्रूणाल के कंपनी के सालाना टर्न ओवर का बेवड़ा निकाला जाए तो कुल 10 करोड़ों रुपए होता है। क्रूणाल जैसे बिजनेसमैन ने मार्केट में उतर कर यह साबित कर दिया कि बिजनेस करने के लिए व्यक्ति के पास प्रतिभा और कौशल होना चाहिए बाकी कोई भी चीज मायने नहीं रखती।

About the Author: Rani Patil

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.