प्रेरणा सिंह ने बताया कि कैसे वे स’टीक रण’नीति और कड़ी मेहनत से बन गई IAS अफ’सर

हर वर्ष सं’घ लोक सेवा आयोग यानी यूपीएससी की परीक्षा देने के लिए देश के ला’खों विद्यार्थी सहभागी होते हैं। इन ला’खों विद्यार्थियों में से केवल कुछ ही विद्यार्थी इस परीक्षा को पास कर पाते हैं और सिविल सेवा के लिए नियुक्त किए जाते हैं। इस परीक्षा को पास करना बिल्कुल भी आसान नहीं है। हमेशा यूपीएससी में टॉप करने वाले अभ्यार्थी अपनी-अपनी रणनीति अन्य विद्यार्थियों के साथ साझा करते रहते हैं।

प्रेरणा सिंह ने बताया कि कैसे वे सटीक रणनीति और कड़ी मेहनत से बन गई IAS अफसर
प्रेरणा सिंह ने बताया कि कैसे वे सटीक रणनीति और कड़ी मेहनत से बन गई IAS अफसर

और सभी टॉपर्स का यह मानना है कि यूपीएससी की पढ़ाई करने के लिए व्यक्ति को पूर्ण रूप से एकाग्र होकर के पढ़ाई करनी पड़ती है और सही रण’नीति ही आपको यूपीएससी में सफलता के शिखर तक पहुंचा सकती है।

 

साल 2017 में यूपीएससी की परीक्षा पास करके आईएएस बनी प्रेरणा सिंह ने भी अपनी रणनीति अन्य विद्यार्थियों के साथ साझा की है। प्रेरणा सिंह ने कई सारी बारीकियों पर ध्यान देने के लिए कहा। प्रेरणा सिंह ने बताया कि छोटी छोटी चीजों को ध्यान में रखना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है और बड़ी-बड़ी किताबें पढ़ने से अच्छा है कि छोटी किताबों से ही बड़ा ज्ञान हासिल करके यूपीएससी की तैयारी की जाए। उन्हीं चीजों पर ध्यान आकर्षित करते हुए आईए’एस प्रेरणा सिंह ने कई बातों को विद्यार्थियों के ध्यान में लाकर दिया है।

 

प्रेरणा सिंह ने बताया कि यूपीएससी की तैयारी करने के लिए हर विद्यार्थी का बेसिक बहुत ही मजबूत होना जरूरी है। यदि आपका बेसिक ही क्लियर नहीं होगा तो आप ऊपर के लेवल की पढ़ाई उचित रूप से नहीं कर पाएंगे। प्रेरणा सिंह ने बताया कि यूपीएससी की पढ़ाई करने के लिए हर विद्यार्थी को एनसीआरटी पढ़नी जरूरी है।

प्रेरणा सिंह ने बताया कि कैसे वे सटीक रणनीति और कड़ी मेहनत से बन गई IAS अफसर
प्रेरणा सिंह ने बताया कि कैसे वे सटीक रणनीति और कड़ी मेहनत से बन गई IAS अफसर

यूपीएससी की पढ़ाई शुरू करने से पहले हर विद्यार्थी को छठवीं से लेकर 12वीं तक की एनसीईआरटी पढ़नी है चाहिए। प्रेरणा सिंह ने बताया कि यदि आपके पास समय की कमी है तो भी आप कम से कम 9वीं से लेकर 12वीं तक की एनसीईआरटी तो पढ़ ही लीजिए। क्योंकि एनसीईआरटी में ही बहुत सारे महत्वपूर्ण मुद्दे छुपे हुए होते हैं।

प्रेरणा सिंह ने करंट अफेयर्स पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान देने को कहां है। प्रेरणा सिंह बताती है कि यूपीएससी की परीक्षा में हर वर्ष करंट अफेयर्स का महत्व बढ़ता ही जा रहा है। प्रेरणा सिंह ने बताया कि यूपीएससी किसी भी वर्ष अपने सिलेबस का कोई भी प्रश्न रिपीट नहीं करती इसलिए सिलेबस में से हर वर्ष नई-नई चीजें पूछना थोड़ा कठिन होता है इसलिए करंट अफेयर्स पर निर्भरता रखते हुए यूपीएससी प्रतिवर्ष नई नई चीजें पूछती रहती है। इसलिए यूपीएससी की तैयारी कर रहे हर विद्यार्थी को करंट अफेयर्स की मजबूती से तैयारी करनी चाहिए।

इसके अलावा प्रेरणा सिंह ने बताया कि कुछ विद्यार्थी एक ही सब्जेक्ट के लिए बहुत अधिक किताबें रेफर कर लेते हैं जो कि पूर्ण तरह गलत है। हमें कम से कम किताबों को रेफर करना चाहिए ताकि हम अधिक से अधिक बार रिवीजन कर सकें। यूपीएससी की परीक्षा पास करने के लिए आप जितने अधिक बार रिवीजन करेंगे उतना अधिक कंसेप्ट आपके क्लियर होते जाएंगे।

इसके साथ ही प्रेरणा सिंह ने बताया कि ऑप्शनल सब्जेक्ट का चयन भी बहुत सोच समझ कर करना चाहिए। यह एक ऐसा सब्जेक्ट है जो पूरी परीक्षा में गेमचेंजर साबित हो सकता है। इसलिए आप ऑप्शनल सब्जेक्ट का चयन बहुत ही ध्यान पूर्वक करें।

आईएएस प्रेरणा सिंह साल 2017 की बैच की आईएएस ऑफिसर है। प्रेरणा सिंह पहले मुरादाबाद में ज्वाइंट मजि’स्ट्रेट के पद पर कार्यरत थी और अब वे उत्तर प्रदेश के इटावा में चीफ डेवलपमेंट ऑफिसर के पद पर तैनात है।

About the Author: Rani Patil

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.