भारत की वह खूबसूरत जगहे जहां पर जाने का आपको बहुत मन होगा परंतु वहां जाने की अनुमति नहीं है

हमारे देश में कई ऐसी जगह है जोकि सर्वोत्तम पर्यटन स्थल के रूप में लोगों के मन को काफी भाती है। परंतु इस लेख में हम आपको ऐसी नहीं सर की जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं जो भारत की ही है परंतु वहां पर आपको जाने की अनुमति नहीं है।

इन जगहों की फोटोग्राफ देखने पर आपको यहां पर जाने के लिए काफी मन होगा और वहां पहुंचकर पिकनिक मनाने के लिए जी लग जाएगा परंतु कई जगहों पर सुरक्षा कारणों के चलते लोगों के जाने पर प्रतिबंध लगाया गया है।

1. पैंगॉन्ग झील का आधा हिस्सा

1. पैंगॉन्ग झील का आधा हिस्सा
1. पैंगॉन्ग झील का आधा हिस्सा

पैंगॉन्ग त्सो यह झील लद्दाख में स्थित है और बहुत ही सुंदर टूरिस्ट स्पॉट है। प्रतिवर्ष लोग यहां पर भारी तादाद में घूमने के लिए पहुंचते हैं। इस एरिया का लगभग पूरा एरिया झील से कवर है। परंतु इस जेल का 50% हिस्सा लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल के तहत चीन और भारत के बीच बांटा गया है। इसलिए इस झील के ऊपरी हिस्से में जाना प्रतिबंधित है क्योंकि वह हिस्सा चीन के कंट्रोल में है।

2. बैरेन आईलैंड

2. बैरेन आईलैंड
2. बैरेन आईलैंड

बैरन आईलैंड यह अंडमान द्वीप सागर में एक्टिव टेक्टोनिक प्लेट के बीच स्थित है। इस आइलैंड की विशेषता यह है कि यह भारत का एकमात्र ज्वालामुखी स्पॉट है। इस आइलैंड के पास से आप क्रूज या शिप से गुजर तो सकते हैं परंतु इस आईलैंड पर सुरक्षा कारणों की वजह से उतरने की अनुमति किसी भी पुलिस को नहीं दी गई है।

3. नॉर्थ सेंटीनेल आईलैंड

3. नॉर्थ सेंटीनेल आईलैंड
3. नॉर्थ सेंटीनेल आईलैंड

नॉर्थ सेंटिनल आईलैंड यह अंडमान द्वीप पर स्थित है। यह आईलैंड अंडमान दीप से आगे समुद्र में टेक्टोनिक प्लेट्स के बीच में स्थित है। इस आइलैंड की तस्वीरें देखने पर सचमुच में यहां पर जाकर पिकनिक मनाने का बहुत मन होता है। नैसर्गिक जगहों पर घूमने जाने के शौकीन लोग निश्चित रूप से यहां पर जाने का प्लान बनाएंगे परंतु सुरक्षा कारणों के चलते साइलेंट पर जाने पर सरकार के द्वारा प्रतिबंध लगाया गया है।

4. भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर

4. भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर
4. भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर

भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर मुंबई के एक उपनगर में स्थित है। यह भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर भारत का एक प्रमुख परमाणु अनुसंधान केंद्र है। यहां पर भारत की सुरक्षा से संबंधित उपकरण और एटॉमिक ऊर्जा से संबंधित अनुसंधान किए जाते हैं। यही एक प्रमुख कारण है कि इस जगह पर सामान्य नागरिकों का जाना बिल्कुल प्रतिबंधित है। हालांकि यहां पर शोधकर्ता और विद्यार्थी सरकारी संस्थाओं की अनुमति लेकर प्रवेश कर सकते हैं।

5. लक्षद्वीप के कुछ भाग

5. लक्षद्वीप के कुछ भाग
5. लक्षद्वीप के कुछ भाग

वैसे तो लक्ष्यद्वीप के कई ऐसे द्वीप है जहां पर टूरिस्ट घूमने के लिए जा सकते हैं। परंतु लक्ष्यद्वीप के कुल 36 आईलैंड्स में से कुछ आईलैंड ऐसे हैं यहां पर लोगों को जाने की बिल्कुल भी अनुमति नहीं है।

बताया जाता है कि ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि वहां के स्थानीय लोगों का हित सुरक्षित रह सके। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इन्हीं आईलैंड्स में से किसी एक पर नौसेना का अड्डा भी है। यह भी एक प्रमुख वजह है कि इस क्षेत्र के कई आईलैंड पर जाने की अनुमति लोगों को नहीं है।

About the Author: Rani Patil

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.