100 साल की उम्र में दूल्हा बना ये इंसान, ढोल नगाड़ों के साथ निकाली बारात

100 साल की उम्र में दूल्हा बना ये इंसान, ढोल नगाड़ों के साथ निकाली बारात

आज के समय मे कुछ लोग ऐसे भी है जिन्हें अब तक अपना जीवनसाथी नही मिल पाया। वही दूसरी ओर कुछ ऐसे लोग भी है जो अपनी उम्र के आखिरी पड़ाव में है और इस उम्र भी शादी कर रहे है। जी हां, आज हम आपको ऐसे ही एक मामले के बारे में बताने जा रहे है। जहां एक बुजुर्ग ने बुढ़ापे में शादी की है। और इस बुजुर्ग की उम्र 100 साल है।

100 साल की उम्र में दूल्हा बना ये इंसान, ढोल नगाड़ों के साथ निकाली बारात
100 साल की उम्र में दूल्हा बना ये इंसान, ढोल नगाड़ों के साथ निकाली बारात

अपने 100वे जन्मदिवस पर की शादी

ये मामला है पश्चिम बंगाल का। यहाँ के एक शख्स ने अपने 100 वे जन्मदिन पर अपनी पत्नी से दोबारा शादी की है। बताते चले, कि इस शख्श का नाम विश्वनाथ सरकार है। और ये पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद के रहने वाले है। ये शादी उन्होंने बुधवार को की है। विश्वनाथ सरकार की पत्नी की उम्र 90 साल है। और ये दोनों पूर्ण रूप से स्वस्थ है।

विश्वनाथ की पत्नी का था आईडिया

100 साल की उम्र में दूल्हा बना ये इंसान, ढोल नगाड़ों के साथ निकाली बारात
100 साल की उम्र में दूल्हा बना ये इंसान, ढोल नगाड़ों के साथ निकाली बारात

आप सोच रहे होंगे इस बुर्जुग जोड़े को ये आईडिया आया कहाँ से?. तो आपको बतादे कि ये आईडिया उनके बेटे की बहू गीता सरकार ने दिया था। गीता से हुई बातचीत में पता चला है कि कुछ दिनों पहले उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो देखा था। जिसमे एक बुर्जुग कपल का विवाह हो रहा था। ये वीडियो देखने के बाद मेरे भी मन मे ख्याल आया कि क्यो न हम भी ऐसा ही कुछ अपने सास ससुर के लिए भी करे। उसके बाद मैंने ये आईडिया परिवार वालो के अन्य सदस्यों के साथ साझा किया, और उन्होंने इस बात का समर्थन किया।

100 साल की उम्र में दूल्हा बना ये इंसान, ढोल नगाड़ों के साथ निकाली बारात
100 साल की उम्र में दूल्हा बना ये इंसान, ढोल नगाड़ों के साथ निकाली बारात

अपने पुश्तेनी घर जाकर की शादी

परिवार वालो से हुई बातचीत में पता चला है कि इस कपल की शादी सन 1953 में हुई थी। इस कपल का अच्छा खासा बड़ा परिवार है जिसमे उनके बच्चे, पोते, पोतियां और परपोते शामिल है।
जो कि इस शादी के अवसर पर एक जुट होकर उनके गांव आये थे।

बुजुर्ग कपल के एक पोते ने बताया है कि दुल्हन दूल्हे के परिवार में आती है। ये सोचकर ही हम लोगो ये प्लान बनाया। भले ही हमारी दादी जी का घर जियागंज के बेनियकुपुर गाँव मे है। लेकिन हम उनको 2 दिन पहले ही अपने पुशतैनी घर लेकर गए थे। जो कि हमारे इस घर से 5 किलोमीटर दूर है।

दादी को पोते पोतियों ने ही बनाया दुल्हन

100 साल की उम्र में दूल्हा बना ये इंसान, ढोल नगाड़ों के साथ निकाली बारात
100 साल की उम्र में दूल्हा बना ये इंसान, ढोल नगाड़ों के साथ निकाली बारात

90 साल की दादी को जब दुल्हन बनाया गया तो ये दुल्हन बनाने का काम उनके पोते पोतियों ने ही किया। जी हाँ पोते पोतियों ने ही 90 वर्ष की दादी का मेकअप किया। ये शादी वाकई में खास रही। बताया जा रहा है कि पोते पोतियों का प्लान दादी को ब्यूटीपार्लर ले जाने का था लेकिन इसके लिए दादी मानी नही, जिसके बाद पोते पोतियों ने दादी का घर पे ही मेकअप किया।

आतिशबाजी के साथ हुआ बारात का भव्य स्वागत

बता दे कि जब विश्वनाथ सरकार बारात लेकर आये तो ढोल नागोडो के बीच, खूब आतिशबाजी भी हुई। और खूब जश्न मनाया गया। शादी में सभी रिश्तदारों को बुलाया गया था। इस वजह से भी शादी में खुशी का माहौल था। दूल्हे को धोती कुर्ता पहनाया गया था जबकि दुल्हन खूबसूरत साड़ी में थी। दोनो की जयमाला भी हुई। शादी में खाने की व्यवस्था भी अच्छी की गई थी।

About the Author: goanworld11

Indian blogger

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.